• GR

अपने बैंक बैलेंस की जांच कैसे करें ?

Updated: May 17, 2020

यदि किसी कारण से आप अपने बैंक में नहीं जा सकते हैं और अपना बैलेंस चेक नहीं कर सकते हैं, और आपकी पासबुक अपडेट नहीं है, और आपको समझ नहीं आ रहा है कि आपका बैलेंस बैंक में कितना है, तो आज हम आपको घर पर अपने बैंक बैलेंस को चेक करने का तरीका बताने जा रहे हैं। जो कर सकते हैं।


SBI Bank में अपना बैंक बैलेंस कैसे चेक करें?


ग्राहकों को शेष राशि के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए 9223766666 या इन टोल फ्री नंबरों पर कॉल करना होगा। आपको कुछ ही सेकंड में एसएमएस के माध्यम से सूचित किया जाएगा। इसी तरह, यदि to BAL ’संदेश पंजीकृत मोबाइल नंबर से 09223766666 पर भेजा जाता है, तो शेष राशि के बारे में जानकारी उपलब्ध होगी।


मिनी स्टेटमेंट कैसे प्राप्त करें?


आप अपने पंजीकृत नंबर से अपने टोल फ्री नंबर 09223866666 पर एक संदेश 'MSTMT' भेजकर एक मिनी स्टेटमेंट प्राप्त कर सकते हैं। आप इस मिनी स्टेटमेंट से अंतिम 5 लेनदेन के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। 09223866666 पर मिस्ड कॉल करके भी आप एक मिनी स्टेटमेंट प्राप्त कर सकते हैं।

आप चेकबुक के लिए आवेदन कर सकते हैं


आप एसबीआई बैंकिंग और मोबाइल सेवाओं के माध्यम से एसबीआई चेकबुक के लिए आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए आपको 'CHQREQ' का मैसेज 09223588888 पर भेजना होगा। इसके बाद आपको एक एसएमएस आएगा जिसमें एक नंबर भेजा जाएगा। दो घंटे के भीतर, CHQACCY6 के साथ बैंक से प्राप्त संदेश को 09223588888 पर भेजा जाना चाहिए।

6 महीने का बैंक स्टेटमेंट आसानी से उपलब्ध है।


SBI ग्राहक 6 महीने का बैंक स्टेटमेंट भी आसानी से प्राप्त कर सकते हैं। आवेदन करने के बाद, बैंक स्टेटमेंट आपको पंजीकृत मेल पर पीडीएफ फाइल के रूप में मेल किया जाएगा। इसके लिए आपको M ESTMT <स्पेस> <अकाउंट नंबर> <स्पेस> <कोड> टाइप करना होगा और 09223588888 पर एक एसएमएस भेजना होगा। इस पीडीएफ फाइल को अपनी पसंद के 4 अंकों के कोड की मदद से एन्क्रिप्ट किया जा सकता है।


इन सेवाओं के लिए पंजीकरण प्रक्रिया।


SBI बैंकिंग और मोबाइल सेवाओं के तहत सेवाओं का लाभ उठाने के लिए पंजीकरण आवश्यक है। इसे आप मोबाइल की मदद से भी कर सकते हैं। इसके लिए आपको अपने पंजीकृत मोबाइल नंबर से 88 REG खाता संख्या ’पर एसएमएस 09223488888 पर भेजना होगा। अधिक जानकारी के लिये यहा क्लिक करें




PNB पीएनबी बैंक के बैंक बैलेंस की जांच कैसे करें?


जिन उपयोगकर्ताओं ने बैंक के साथ अपना मोबाइल नंबर पंजीकृत किया है, उनके लिए एक सुविधा उपलब्ध है जिसमें आप उनके टोल फ्री नंबर पर कॉल करके अपने बैंक बैलेंस की जांच कर सकते हैं। इसके लिए आपको 18001802223 पर कॉल करना होगा, आप 0120-2303090 पर कॉल करके भी अपना अकाउंट बैलेंस चेक कर सकते हैं, आप इसे एसएमएस से भी कर सकते हैं।


पीएनबी एसएमएस बँकिंग :एसएमएस अलर्ट के लिए पंजीकृत ग्राहकों के लिए उपलब्ध है। अपने खातों पर नज़र रखें। 5607040 पर एसएमएस के माध्यम से कीवर्ड (सेवाओं के अनुसार डिफ़ॉल्ट प्रारूप) भेजकर सुविधा उपलब्ध है। अपने खाते में किसी भी अनधिकृत पहुंच का पता लगाने के लिए स्मार्ट स्थिति में रहें। सेवाओं की एक सूची के लिए 5607040 पर एसएमएस "PNB PRD"

अधिक जानकारी के लिये यहा क्लिक करें



एचडीएफसी बैंक में बैंक बैलेंस कैसे चेक करें?


एचडीएफसी बैंक ने विभिन्न सूचनाओं के लिए अलग-अलग टोल फ्री नंबर प्रदान किए हैं। आप उन्हें कॉल कर सकते हैं और अपने खाते की शेष राशि आदि की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। लेकिन आज हम आपको बैलेंस चेक करने के बारे में बताने जा रहे हैं। मैं आपको सूचित करना चाहूंगा कि यदि आपका खाता एचडीएफसी बैंक में है, तो आप 18002703333 पर कॉल करके अपने खाते की शेष राशि के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। यदि आप एसएमएस के माध्यम से अपना खाता शेष देखना चाहते हैं, तो आपको 567612 पर एसएमएस करना होगा।

अधिक जानकारी के लिये यहा क्लिक करें


बँक ऑफ महाराष्ट्र

भारतीय उपखंड व त्यामधील मुबलक नैसर्गिक संसाधने यामधील महाराष्ट्राच्या स्थानामुळे, महाराष्ट्राला व्यावसायिक घडामोडींचा प्रदीर्घ इतिहास लाभला आहे.

महाराष्ट्र हा एक प्रगतीशील प्रदेश आहे आणि बँकिंग उपक्रम महाराष्ट्रात बऱ्याच आधीपासून सुरु करण्यात आले आहेत. ऐतिहासिकदृष्ट्या १८४० साली स्थापित झालेली ‘बँक ऑफ बॉम्बे’ ही महाराष्ट्रातील पहिली व्यवसायिक बँक होती.

तथापि, मुंबईबाहेर १८८९ साली ‘बँक ऑफ पुना’ हि महाराष्ट्रातील पहिली व्यवसायिक बँक स्थापन झाली, त्यानंतर १८९० साली ‘डेक्कन बँक’ आणि १८९८ साली ‘बॉम्बे बँकिंग कंपनीची’ स्थापना झाली.पहिले महायुद्ध सुरू झाल्यानंतर जगाला महामंदीला सामोरे जावे लागले. परिणामी, भारतातील बॅंकांचे मोठे नुकसान झाले. १९१४ आणि १९३५ च्या दरम्यान देशात ३८० बँका डबघाईला आल्या, त्यापैकी ५४ बँका या बॉम्बे प्रांतामधील होत्या.

या महामंदीचा परिणाम मुख्यत्वेकरून महाराष्ट्रावर झाला, कारण महाराष्ट्रात बऱ्याच काळापासून चालू असणाऱ्या बँकासुद्धा बंद झाल्या होत्या.महामंदीचे परिणाम हळूहळू कमी होऊ लागले आणि एका नवीन आशेच्या किरणासोबत अर्थव्यवस्थेमध्ये नवीन उद्योग, बँकिंग क्षेत्रासह उदयास येऊ लागले. अधिक जानकारी के लिये यहा क्लिक करें



विश्व स्तरीय ग्राहक सेवा अनुभव के लिए  हमसे संपर्क करें

बैंक ऑफ़ बड़ौदा/देना बैंक: भारत के-स्वामित्त्व वाली अंतर्राष्ट्रीय बैंकिंग एवं वित्तीय सेवाएं प्रदान करने वाली कंपनी है जिसका मुख्यालय वड़ोदरा (पहले बड़ौदा के नाम से प्रसिद्ध), गुजरात, भारत में है. यह भारतीय स्टेट बैंक के बाद भारत का दूसरा सबसे बड़ा बैंक है. इसका मुख्यालय वड़ोदरा में है और मुंबई में कॉर्पोरेट कार्यालय है.


भारत सरकार द्वारा भारत के अन्य 13 प्रमुख वाणिज्यिक बैंकों के साथ इसका भी 19 जुलाई 1969 को राष्ट्रीयकरण कर दिया गया और लाभ कमाने वाले सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम (पीएसयू) के रूप में निर्धारित किया गया.

1980 में, बैंक ऑफ़ बड़ौदा ने बहरीन में शाखा और सिडनी, ऑस्ट्रेलिया में प्रतिनिधि कार्यालय खोला. बैंक ऑफ़ बड़ौदा, यूनियन बैंक ऑफ़ इंडिया एवं इंडियन बैंक ने हांग कांग में आईयूबी अंतर्राष्ट्रीय फाइनांस, लाइसेंस प्राप्त जमाराशि स्वीकारकर्ता इकाई की स्थापना की. तीनों बैंकों में से प्रत्येक ने समान शेयर लिए. बाद में (1999 में) बैंक ऑफ़ बड़ौदा ने अपने साझेदारों से हिस्सा खरीद लिया.



महाराजा सयाजीराव गायकवाड़ III

बैंक ऑफ़ बड़ौदा के संस्थापक


बैंक की स्थापना 20 जुलाई 1908 को बड़ौदा के महाराजा, महाराजा सयाजीराव गायकवाड़ III द्वारा बड़ौदा राज्य, गुजरात में की गई. भारत सरकार द्वारा भारत के अन्य 13 प्रमुख वाणिज्यिक बैंकों के साथ इसका 19 जुलाई 1969 को राष्ट्रीयकरण कर दिया गया और लाभ कमाने वाले सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम (पीएसयू) के रूप में निर्धारित किया गया. अधिक जानकारी के लिये यहा क्लिक करें




बँक ऑफ इंडिया

बैंक ऑफ इंडिया की बकाया जांच संख्या क्या है? खाता शेष पूछताछ संख्या - 02233598548 है। महत्वपूर्ण अद्यतन - बैंक ऑफ इंडिया की मिस कॉल बैलेंस पूछताछ संख्या बदल गई है। नया नंबर 09015135135 है।


All types of EnquiryToll Free: 1800 220 088, LandLine: (022) 40426005/40426006


Hot Listing (Deactivating Card)Toll Free: 1800 220 088, LandLine: (022)40426005 / 40426006


अधिक जानकारी के लिये यहा क्लिक करें




आईसीआईसीआई बैंक

प्रिय ग्राहक, हम आपको सूचित करना चाहते हैं कि हम कोरोना वायरस के प्रकोप के मद्देनजर एहतियाती कदम उठा रहे हैं। इसलिए, हम अपने फोन बैंकिंग प्लेटफॉर्म पर सीमित सेवाएँ दे रहे हैं। आप अपने अनुरोध को पूरा करने के लिए हमारी वेबसाइट www.icicibank.com या मोबाइल बैंकिंग ऐप पर अपने इंटरनेट बैंकिंग खाते में लॉगिन कर सकते हैं। हम आपके धैर्य और सहयोग के लिए धन्यवाद देते हैं।


Personal Banking.....................All India : 1860 120 7777

Wealth / Private Banking.....All India : 1800103 8181

Corporate / Business / Retail Institutional Banking.............................All India : 1860 120 6699 Domestic customers travelling overseas

(only available from numbers outside India)......................................Personal Banking / Wealth / Private Banking +91-40-7140 3333

Corporate / Business / Retail Institutional Banking +91-22-3344 6699



ऐक्सिस बैंक

ग्राहक केंद्रितता बैंक के मुख्य मूल्यों में से एक है। बैंक बैंक और ग्राहक के बीच उचित और न्यायसंगत संबंध को बढ़ावा देता है। बैंक सभी ग्राहकों के साथ उचित व्यवहार करता है और ग्राहकों को लिंग, आयु, धर्म, जाति, साक्षरता, आर्थिक स्थिति या शारीरिक क्षमता जैसे किसी भी आधार पर भेदभाव नहीं करता है। बैंकों का प्रयास ग्राहकों को हर समय परेशानी मुक्त और उचित उपचार प्रदान करना है। बैंक कुछ ग्राहक खंडों की जरूरतों के प्रति भी संवेदनशील है, ताकि इस तरह के खंड में बैंकों के उत्पादों और सेवाओं तक सहज पहुंच सुनिश्चित की जा सके। यह किसी भी अनुचित भेदभाव के लिए नहीं है। "अलग तरह से घिरे" ग्राहकों की जरूरतों को पूरा करने के लिए, बैंक ने 4898 एटीएम की सुविधा के साथ बात की है और हमारे सभी एटीएम सक्षम हैं। बात करने वाले एटीएम का स्थान यहां देखा जा सकता है।


अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे







15 views0 comments